भारत में कितने राष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव अभ्यारण्य है विस्तार मे

भारत में कितने राष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव अभ्यारण्य है उनका और राज्य का नाम | भारत के राष्ट्रीय उद्यानों की स्थिति और उनमें कौन सरंक्षित है इसकी क्रमशः जानकारी?

जम्मू कश्मीर

जम्मू-कश्मीर में 4 चार राष्ट्रीय उद्यान हैं, जिनके नाम हैं दाचीगाम, हेमिस हाई, सालिम अली तथा किश्तवार राष्ट्रीय उद्यान।

दाचीगाम भारत का एकमात्र क्षेत्र है जहां कश्मीरी हंगुल पाए जाते हैं। हेमिस हाई राष्ट्रीय उद्यान की विशेषता यह है कि यह भारत का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान हैै जो जम्मू-कश्मीर के लेह जनपद में स्थित है। 

हिमाचल प्रदेश 

हिमाचल प्रदेश में पांच 5 राष्ट्रीय उद्यान हैं जो ग्रेट हिमालय, इंदर किला, खिर गंगा, पिन घाटी और सिम बाल बारा में स्थित हैं। ग्रेट हिमाचल यूनेस्को सूची में शामिल है। 

उत्तराखंड

उत्तराखंड में कुल 6 राष्ट्रीय उद्यान हैं। इनके नाम इस प्रकार हैं:जिम कार्बेट राष्ट्रीय उद्यान  गंगोत्री, गोविंद पशु विहार,नंदा देवी और फूलों की घाटी।

जिम कार्बेट राष्ट्रीय उद्यान 1936 में बना भारत का पहला राष्ट्रीय उद्यान है। पहले इसका नाम हैली राष्ट्रीय उद्यान था।

राजा जी राष्ट्रीय उद्यान बाघ, तेंदुआ, तथा हाथियों के लिए प्रसिद्ध है।

हरियाणा

हरियाणा में कुल दो राष्ट्रीय उद्यान हैं, जिनके नाम हैं कालेसर तथा सुल्तानपुर। 

राजस्थान

राजस्थान में कुल पांच राष्ट्रीय उद्यान हैं जिनके नाम हैं केवलादेव, रणथम्भोर, सरिस्का, मुकुंदरा हिल्स तथा मरुस्थलीय राष्ट्रीय उद्यान।

केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान साइबेरिया के क्रन नानामक पक्षी के प्रवास के लिए जाना जाता है।

राजस्थान का मरुस्थलीय राष्ट्रीय उद्यान भारत का दूसरा सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान है। 

गुजरात

गुजरात में कुल चार राष्ट्रीय उद्यान हैं जिनके नाम हैं, गिरिवन राष्ट्रीय उद्यान, मैरीन राष्ट्रीय उद्यान  ब्लैक बक राष्ट्रीय उद्यान, वंस्दा राष्ट्रीय उद्यान।

मैरीन राष्ट्रीय उद्यान कच्छ की खाड़ी में है और गुजरात का गिरिवन राष्ट्रीय उद्यान एशियाई शेरों के लिए जाना जाता है। 

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र के 6 राष्ट्रीय उद्यान इस प्रकार हैं :संजय गांधी बोरिबली राष्ट्रीय उद्यान।

नवेगांव, पेंच, तदोबा, गुगामल और चांदोली।

गोवा

गोवा में एक 1राष्ट्रीय उद्यान है जिसका नाम महावीर मोल्लेम है।

कर्नाटक

कर्नाटक में पांच राष्ट्रीय उद्यान हैं जिनके नाम हैं, बांदी पुर राष्ट्रीय उद्यान, राजीव गांधी राष्ट्रीय उद्यान कुदरेमुख राष्ट्रीय उद्यान बननेरघट्टा और अंशी राष्ट्रीय उद्यान।

बांदी पुर राष्ट्रीय उद्यान रेड हेडेड वल्चर, वृहद बाइसन भारतीय हाथी  चीतल।

राजीव गांधी राष्ट्रीय उद्यान नागरहोल भी कहलाता है इसी तरह बेन्नेर घट्टा तितलियों के लिए जाना जाता है। 

केरल

केरल में कुल छ: राष्ट्रीय उद्यान हैं जिनके नाम हैं पेरियार राष्ट्रीय उद्यान,

अन्नामुदी शोला, इरावी कुलम मथिकेट्टन शोला, पम्बाडुम शोला, साइलेंट वेली।

पेरियार राष्ट्रीय उद्यान में हाथी, हिरन, सांभर, भौंकने वाला हिरन पाया जाता है। 

तमिलनाडु

तमिलनाडु में कुल पांच 5 राष्ट्रीय उद्यान पाए जाते हैं।

इनके नाम हैं इंदिरा गांधी या अन्ना मलाई,मुदुमलाई, मुंडी, मुकुर्थी और मन्नार मैरीन। 

तेलंगाना

तेलंगाना में कुल तीन राष्ट्रीय उद्यान हैं।

इनके नाम इस प्रकार हैं कासू ब्रह्मानंद रेड्डी, महावीर हरिना वनस्थली और मुगावानी  है। 

आंध्रप्रदेश

आंध्र प्रदेश में केवल तीन राष्ट्रीय उद्यान हैं जिनके नाम इस प्रकार हैं:

पापी कोंडा  राजीव गांधी  यानी रामेश्वरम राष्ट्रीय उद्यान और श्री वेंकटेश्वर राष्ट्रीय उद्यान ।

छत्तीसगढ़

इन्द्रावती  गुरु घासीदास और कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान।

कांगेर महत्वपूर्ण पक्षी क्षेत्र है।

राणा चार्ल्स डार्विनी नामक नई मेढक की प्रजाति के लिए भी जाना जाता है। 

ओडिशा

ओडिशा में भितर कनिका तथा सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान हैं। 

पं बंगाल

पं बंगाल में कुल 6 राष्ट्रीय उद्यान हैं, जिनके नाम इस प्रकार हैं :

ब्रुक्सा, गोरू मारा, नेओरा घाटी, सिंग लीला, सुंदर वन और जलदापारा।

जलदापारा में एक सींग वाला गैंडा पाया जाता है। 

त्रिपुरा

त्रिपुरा में केवल दो राष्ट्रीय उद्यान हैं, जिनके नाम हैं क्लाउडेड लेपर्ड, बिसो। 

मिजोरम

मिजोरम में भी केवल दो राष्ट्रीय उद्यान हैं। मुर्लेन फवंग पुई नीला पर्वत। 

मणिपुर

मणिपुर में केवल एक राष्ट्रीय उद्यान है।

यहां पर विश्व का एकमात्र पानी में तैरता हुआ राष्ट्रीय उद्यान है

जिसका नाम केइबुल लाम जाओ है। 

नागालैंड

नगालैंड में केवल एक इंटाकी नामक राष्ट्रीय उद्यान है। 

अरुणाचल प्रदेश

अरुणाचल प्रदेश मे कुल दो राष्ट्रीय उद्यान हैं नामदफा तथा माउलिंग नाम हैं इनके। 

झारखंड

झारखंड में केवल एक बेतला राष्ट्रीय उद्यान है जो

बाघ,, स्लोथ भालू, मोर  हांथी  सांभर के लिए जाना जाता है।

क्रमशः उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश बिहार असम सिक्किम मेघालय अंडमान और निकोबार